पीले दांतों को सफेद कैसे करें?पीले दांतों को कुछ घरेलू  नुस्खों से चमकाएं।

सफेद दांत किसी की भी पर्सनैलिटी में निखार ला सकते हैं। और बात हो वर्तमान में इस मॉडल और लाइफस्टाइल से भरे दौर की तो यह बहुत बड़ी समस्या है। आपने देखा होगा बहुत से लोग दूसरों के सामने हंसने से बचते हैं। और अगर हंसते हैं, तो मुंह पर हाथ रख कर हंसते हैं। दांतों में पीलापन ज्यादातर उम्र के कारण, दांतों में ठीक से सफाई ना होने के कारण, तंबाकू, सिगरेट, बीड़ी, गुटखा और पान मसाला आदि पीने के कारण। हालांकि पीले दांतो को सफेद और चमकाने के लिए कोई मुश्किल कम नहीं है, बस आपको थोड़ी सी मेहनत करने की जरूरत है। पीले दांतों पर आपकी यह थोड़ी सी मेहनत आपके दांतों को सफेद और चमकदार बना सकती है। आइये जानते हैं पीले दांतों को सफेद और चमकदार बनाने के कुछ घरेलू नुस्खे।


पीले दांत के कारण।(yellow teeth causes)

दांतो का पीलापन हमारे गलत रहन-सहन के कारण और कई बार सफाई ना करने के कारण भी होता है। और इन सब बातों को छोड़कर दांतों का पीलापन कुछ अन्य कारणों से भी होता है।

पीले दांतो के अहम मुख्य कारण।(causes of yellow teeth in hindi.)

तंबाकू, गुटखा, पान, मसाला, बीड़ी, सिगरेट आदि के पीने से दांत पीले हो जाते हैं। और कुछ लोगों में उम्र बढ़ाने के साथ-साथ फ्लैक की परत चढ़ती जाती है। और दांत पीले दिखने लगते हैं। और ज्यादा मात्रा में चाय कॉफ़ी एवं कोल्ड ड्रिंक पीने से भी दांत पीले हो जाते हैं।


1.फ्लोरोसिस- देश के कई shahron के पानी में फ्लोराइड की मात्रा अधिक होने के कारण दांतों का रंग बदल जाता है। उसमे दांतों की ऊपरी परत सफेद और पीली दिखाई पड़ती है।

2. प्रोबायोटिक्स रखना-अगर दांतों में ढीलापन महसूस होता है। तो proviotic से राहत मिलती है। और इससे दांतों का संक्रमण खत्म हो जाता है।

3. एसिटिक फलों का सेवन ना करें।

जिन फलों के सेवन से शरीर में एसिड ज्यादा मात्रा में बनता है, उन फलों का सेवन ना ही करें तो बेहतर होगा। एसिड बनाने वाले फल दांतो की सेंसिटिविटी में ijaafa इजाफा करते हैं।

बेकिंग सोडा-आप सबने बेकिंग सोडा का नाम तो सुना ही होगा। जिसको हम अपने घर पर किचन में प्रयोग में लेते हैं। यह दांतो से ब्लॉक को खत्म करके दांतों में सफेदी और चमक बनाए रखता है।

दांतो में रोज ब्रश करते समय अपने पेस्ट में थोड़ा सा बेकिंग सोडा मिला लें। और ऐसा करते-करते दांतों की चमक और सफेदी वापस लौट आ जाएगी। एक कप पानी में बेकिंग सोडा और हाइड्रोजन पर ऑक्साइड को मिलाकर माउथ बॉस की तरह भी इस्तेमाल किया जा सकता है।


संतरे का छिलका।

आपने यह सोचा नहीं होगा की संतरे का छिलका भी काम में आ सकता है। संतरे के छिलके से रोज़ दांतो की सफाई करने से पीले दांत मोती की तरह चमकने लगेंगे।

रोज़ रात को सोते समय संतरे के छिलके दांतों पर

रगड़े। संतरे के छिलके में विटामिन सी और कैल्सियम माइक्रो ऑर्गेनिज्म(micro organism) जो दांतो की चमक और सफेदी को बरकरार रखता है।


स्ट्रॉबेरी-स्ट्रॉबेरी मे भी विटामिन सी(vitamins -c) प्रचुर मात्रा में होता है। जो की दांतों को सफेद बनाने में सहायक है। स्ट्रॉबेरी के कुछ टुकड़ों को पीसकर इसका एक लेप बना लें। और स्ट्रॉबेरी के लेप को दांतों पर लगाकर मसाज करें। इसे दिन में दो बार करने से कुछ ही दिनों में पीलो दांतों से छुटकारा मिल जाएगा और आपके दांत सफेद हो जाएंगे। स्ट्रॉबेरी और बेकिंग सोडा के पल्प को मिलाकर भी दांतो का पीलापन खत्म हो जाता है।

नींबू का प्रयोग-नींबू दाग धब्बे को हटाने में बहुत ही ज्यादा कारगर माना गया है। और नींबू के प्राकृतिक ब्लीचिंग के गुण दांतों पर भी अपना असर दिखाते हैं। पीले दांतो के लिए नींबू के छिलके को दांतों पर रगड़ा जा सकता है, या नींबू के पानी से गरारे कर कर पीले दांतो को सफेद किया जा सकता है।

-नींबू के साथ नामक मिलाकर दांतों की मसाज करें।

-दो हफ्ते तक दो बार ऐसा करने से दांत मोती की तरह चमकने लगेंगे।


नमक का प्रयोग-नामक को पुराने समय से ही दांतों को साफ करने में प्रयोग किया गया है। यह दांतो के खोय मिनरल्स लोटाता है, जिससे दांतो का सफेदपन बना रहता है।


-रोज सुबह नामक को टूथपेस्ट की तरह दांतों की सफाई के लिए प्रयोग किया जा सकता है। नामक को चारकोल में मिलाकर सफाई की जा सकती है, जिससे दांत सफेद होते हैं।


-नमक और बेकिंग सोडा मिलाकर भी मंजन तैयार किया जा सकता है, इससे भी दांत सफेद होते हैं।


-मसुडों को स्वस्थ और मजबूत रखने के लिए नमक के पानी से कुल्ला करना चाहिए। 3 दिन में एक बार नामक के पानी से कुल्ला करना जरूरी है, इससे तुरंत आराम मिलेगा।


-नमक और सरसों के तेल से भी मसाज करना फायदेमंद होता है। और अगर आप चाहे तो सिर्फ सरसों के तेल से भी दांतों और मसुडों की मसाज कर सकते हैं।


दांत साफ करने में तुलसी के पौधे का प्रयोग-आप अगर हिंदू धर्म से वास्ता रखते हैं तो तुलसी के पौधे को जरूर जानते होंगे। तुलसी वह पौधा है जिसे हिंदू धर्म में पूजा करने के लिए प्रयोग किया जाता है और इस पौधे की पूजा भी होती है।

तुलसी के पौधे में दांतों को सफेद बनाने का गुण होता है। इसके साथ ही तुलसी पायरिया आदि से भी दांतों की रक्षा करती है।

तुलसी के पत्तों को सुखाकर उसका पाउडर बना लें। इस पाउडर को अपने टूथपेस्ट में मिलाकर रोजाना ब्रश करें। इससे भी दांत सफेद होते हैं।

तुलसी के पत्तों का पेस्ट बनाकर उसमें सरसों (musterd oil) का तेल मिलायें। इस पेस्ट से दांतों की सफाई करने से बहुत ज्यादा फायदा होता है।

दांतों की साफ सफाई पर विशेष ध्यान। दांतों की साफ सफाई बहुत ही जरूरी है।

masudon की सूजन को अगर अंदाज़ नहीं करना चाहिए। अगर आपको masudon की सूजन की समस्या है तो हम आपको नीचे कुछ उपाय बता रहे हैं आप inhen फॉलो करके अपनी इस समस्या से छुटकारा का सकते हैं।

अगर आपको masudon की सूजन की समस्या हो गई है तो आप दिन में दो बार ब्रश करें। और दांत साफ करने के लिए धागे का इस्तेमाल करें। आप सही ढंग से दांतों की सफाई करें और इस समस्या से छुटकारा पाने के लिए अपने मुंह की प्रॉपर सफाई रखें। नियमित रूप से सुबह और रात के खाने के बाद ब्रश करें। आप दिन में जब भी कुछ खाएं तो तुरंत उसके बाद कुल्ला करें।


हिलते दांतों के लिए उपाय।(A remedy for moving teeth in hindi.)


औरेंगो ऑयल या अजवाइन की पत्ती का तेल:-अजवाइन की पत्ती का तेल हिलते दांतों में काफी फायदेमंद होता है। इसको दांतों पर लगाकर हल्के हाथ से मसाज करने पर दांतों को गर्मी मिलती है।और दांतो के हिलने से रोकने में बहुत ज्यादा आराम होता है।


लौंग के तेल का उपयोग।:-अगर आपके दांत ज्यादा हिल रहे हैं तो लौंग के तेल को अपने हिलते दांतों पर लगाकर धीरे-धीरे मसाज करें। या लॉन्ग का तेल अपने हिलते दांतों पर रात को लगा कर छोड़ दें। इससे हिलते दांतों में बहुत राहत मिलती है।



मेरे प्यारे भाइयों और दोस्तों ऑनलाइन इंटरनेट पर और ऑफलाइन बहुत ज्यादा सर्च करने के बाद यह सटीक जानकारी आप तक pahunchai गई है अगर आपको मेरे द्वारा दी गई है जानकारी पसंद आई हो तो मेरी इस पोस्ट को ज्यादा से ज्यादा शेयर करें और प्लीज कमेंट बॉक्स में कमेंट जरूर करें ताकि मैं आपके कमेंट पढ़ कर और ज्यादा उत्साहित होऊं लिखने के लिए।

                                            ‌ थैंक यू।



Post a Comment