वजन कम करने का घरेलू चमत्कारी नुस्खा।  2021.         (home remedies weight loss.)

आज वर्तमान में अस्वास्थ्य जीवन शैली के कारण उत्पन्न बीमारियों में यह समस्या सबसे अधिक पाई जाती है। मोटापा एक ऐसी बीमारी है जो पूरी दुनिया में एक महामारी की तरह फैल चुकी है। भारत में नहीं बल्कि पूरे विश्व में मोटापे से 60% लोग ग्रसित है। मोटापे के कारण शरीर में कई सारी बीमारियां जन्म ले लेती हैं। और जब बीमारियों से बहुत सारी परेशानियां होने लगती हैं, तो लोग इंटरनेट पर या फिजिकल तौर पर मोटापे के बारे में सर्च या खोज करने लगते हैं। कई बार उचित जानकारी ना होने के कारण लोग गल ofत और भ्रामक जानकारी पाकर अपना इलाज करा लेते हैं, और मोटापा वही का वही रहता है।

यहां मैं आपको कुछ घरेलू चमत्कारी नुस्खे बता रहा हूं। इन्हें फॉलो करके आप घर पर आसानी से मोटापा कम कर सकते हैं। उचित जानकारी आपको अगर मिल जाए और इलाज अपने घर पर ही कुछ घरेलू नुस्खे से कर ले। और कहीं जाने की या कोई एक्सरसाइज करने की आपको जरूरत ना पड़े तो कितना अच्छा होगा। ऐसे ही नुस्खे हम आपको नीचे बताने के लिए जा रहे हैं। इसका प्रयोग करके कुछ ही दिनों में अपने मोटापे की बीमारी से निजात पा सकते हैं।

मोटापा क्या है? (What is obesity.)

जब किसी औरत या मर्द का शरीर उसकी  औसतन लंबाई से भजन ज्यादा हो जाए तो वह मोटापा कहलाता है। आप जितनी कैलोरी अपने डेली लाइफ मैं लेते हैं और आपका शरीर उतनी कैलोरी ग्रहण कर लेता है। तब तो औरत हो या मर्द हो उसका वजन नहीं बढ़ता वह बिल्कुल फिट रहता है। लेकिन इसके विपरीत अगर आपका शरीर जितनी कैलोरी आप लेते हैं, उतनी वह खर्च नहीं कर पाता है। तो वह एक्स्ट्रा कैलोरी फैट का रूप ले लेती है।और एक स्वास्थ्य आदमी का वजन बढ़ने लगता है, और इस वजन बढ़ने को मोटापा कहते हैं।

मोटापा होने का कारण(obesity causes)

अधिक वजन वाले व्यक्तियों के शरीर में अत्यधिक मात्रा में चर्बी जमा हो जाती है। यह शरीर में गलत खानपान और तेलीय पदार्थ खाने से एवं अपच के कारण होती है। शरीर में वजन 3 कारणों से बढ़ता है। जो निम्न है-


  •  अस्वस्थ खानपान।

  • शारीरिक गतिशीलता मे कमी।

  • शुगर युक्त पदार्थ का सेवन।


मोटा होने का लक्षण (obesity symptoms.)

किसी व्यक्ति का उचित वजन कितना होना चाहिए, यह बीएमआई पर निर्भर करता है। जो नीचे लिख कर हम आपको दिखा रहे हैं।

  1. कद

  2. वजन


आप चाहे तो बीएमआई से अपने शरीर की की जांच करके अपने शरीर का वजन जांच सकते हैं। बीएमआई का एक फार्मूला होता है जो वजन(किलोग्राम) मे/कद को(मीटर) मे।

अगर आपकी बीएमआई 18.5 से कम है तो आप अंडरवेट माने जाएंगे।

अगर आपकी बीएमआई 18.5 से 24.9 के बीच है तो आपका वजन सामान्य माना जाएगा।

इसी तरह 25 से 029.9 तक की बी.एम.आई. होने पर ओवरवेट माना जाता है।

30 से ज्यादा की बी.एम.आई. होने पर ओबीज या मोटापा कहलाता है।

गर्भावस्था के दौरान बी.एम.आई. की सीमा लागू नहीं होती है।

बी.एम.आई. आयु व लिंग पर निर्भर नहीं करता है।


मोटापा कम करने के लिए दालचीनी का सेवन (Dalchini: Home Remedy for Obesity in Hindi)-

लगभग 200 मि.ली. पानी में 3-6 ग्राम दालचीनी पाउडर डालकर 15 मिनट तक उबालें। गुनगुना होने पर छानकर इसमें एक चम्मच शहद मिला लें। सुबह खाली पेट और रात को सोने से पहले पिएँ। दालचीनी एक शक्तिशाली एंटी-बैक्टीरियल है, जो नुकसानदायक बैक्टीरिया से छुटकारा दिलाने में मदद करती है।


वजन कम करने के लिए करें अदरक और शहद का प्रयोग (Adrak and Sahad: Home Remedies to Treat Overweight Problem in Hindi)


लगभग 30 मि.ली. अदरक के रस में दो चम्मच शहद मिलाकर पिएँ। अदरक और शहद शरीर की चयापचय क्रिया को बढ़ाकर अतिरिक्त वसा को जलाने का काम करते हैं। अदरक अधिक भूख लगने की समस्या को भी दूर करता है, तथा पाचन क्रिया को दुरुस्त करता है। इस योग को सुबह खाली पेट तथा रात को सोने से पहले लेना


वजन घटाने के लिए नींबू और शहद का उपयोग (Lemon and Honey: Home Remedies for Lose Weight in Hindi)

एक गिलास पानी में आधा नींबू, एक चम्मच शहद एवं एक चुटकी काली मिर्च डालकर सेवन करें। काली मिर्च में पाइपरीन (piperine) नामक तत्व मौजूद होता है। यह नई वसा कोशिकाओं को शरीर में जमने नहीं देता है। नींबू में मौजूद एसकोरबिक एसिड (Ascorbic Acid) शरीर में मौजूद क्लेद को कम करता है, और शरीर से विषाक्त तत्वों को बाहर निकालने में मदद करता है।


मोटापा घटाने के लिए पिएं गुनगुना पानी (Lukewarm Water: Home Remedy for Weight Loss  in Hindi)

उबालकर आधा किया हुआ जल आधा-आधा गिलास करके दिन में ढाई से तीन लीटर पीना चाहिए। इससे आम का पाचन भी हो जाता है, और पेट भरा होने से भूख भी कम लगती है। यह हल्का, सुपाच्य, आम का पाचन करता है। यह शरीर के सभी सूक्ष्म से सूक्ष्म गंदगी को साफ करता है, और पेशाब तथा पसीना लाता है।


वजन कम करने के लिए इलायची का सेवन (Cardamom: Home Remedies for Weight loss in Hindi)

रात में सोते समय दो इलायची खाकर गर्म पानी पीने से वजन कम करने में सहायता मिलती है। इलायची पेट में जमा फैट को कम करती है, तथा कोर्सिटोल (Cortisol) लेवल को भी नियंत्रित रखती है। इसमें मौजूद पोटेशियम (Potaseium), मैग्नेशियम (Magneseium), विटामिन बी1, बी6 (Vita. B1, B6),  और विटामिन सी (Vita. C) वजन घटाने के साथ ही शरीर को स्वस्थ रखते हैं। इलायची अपने गुणों से शरीर में पेशाब के रूप में जमा अतिरिक्त जल को बाहर निकालती है।


वजन कम करने के लिए आपका खान-पान (Your Diet for Obesity)


मोटापे से छुटकारा पाने के लिए आपका खान-पान ऐसा होना चाहिए जिससे मोटापा कम करने में हमें मदद मिले। हम कुछ फल आपको बता रहे जिसके प्रयोग करने से मोटापा कम करने में काफी हद तक मदद मिलती है।


इन फलों का करें सेवन:-


जठराग्नि को बढ़ाने वाले भोजन जैसे कि अदरक, पपीता, करेला, जीरा, सरसों, सौंफ, अजवायन, काली मिर्च, सोंठ, पिप्पली, सहजन, पालक, चौलाई आदि पत्तेदार सब्जियां लौकी, तोरई, परवल, बींस, सलाद, पत्ता गोभी, खीरा, ककड़ी, गाजर, चुकंदर, सेब आदि लेने चाहिए। जयी, जौ, बाजरा, रागी, मूंग दाल, मसूर, आंवला, नींबू, शहद, हल्दी, एलोवेरा जूस, आंवला जूस, ग्रीन टी, स्टीम किये हुये अंकुरित अनाज आदि का भी सेवन करना चाहिए। उपरोक्त बताए हुए फलों का प्रयोग करने से मोटापा कम करने में काफी मदद मिलती है।


मौसमी फल और सब्जियों का सेवन।

फलों का सेवन हमें मौसम के हिसाब से करना चाहिए। जिस स्थान पर मौसम का तापमान गर्म होता है वहां पर ठंडी तासीर वाले फलों का सेवन करना चाहिए एवं जहां मौसम का तापमान ठंडा होता है वहां पर गर्म तासीर वाले फलों का प्रयोग करना चाहिए।

जिस स्थान में व जिस मौसम में जो फल एवं सब्जियां पैदा होती है। उनमें से अपनी प्रकृति के अनुसार खाना चाहिए। जैसे कि ठण्डी जगहों एवं ठण्डे मौसम में गर्म तासीर वाले भोज्य पदार्थ तथा गर्म जगहों एवं मौसम में ठण्डी तासीर वाले भोजन खाने चाहिए।


कम वसा वाले दूध से होता है, वजन कम


कम वसा वाले दूध का प्रयोग करें क्योंकि इसमें वसा कम होने की वजह से कैलोरी कम होती है। जबकि कैल्शियम ज्यादा होता है, और यह अतिरिक्त कैल्शियम वजन को घटाता है। इसलिए कम वसा वाले दूध का प्रयोग करें और अपना मोटापा कम करे।


हल्के भोजन से होता है, वजन कम।

वजन कम करने के लिए हमें अपने खाने में बहुत कम खाना खाना चाहिए। कम भोजन खाने से वजन को कम करने में काफी मदद मिलती है।

सुबह का भोजन भारी, दोपहर का भोजन उससे हल्का व रात्रि का भोजन सबसे हल्का होना चाहिए। अर्थात् रात्रि में कम से कम भोजन तथा हल्का व शीघ्र पचने वाला भोजन करना चाहिए।


रात में सोने से कम से कम 2 घंटा पहले भोजन करना चाहिए। इसी तरह हो सके तो सूर्यास्त से पहले भोजन कर लेना चाहिए, क्योंकि सूर्यास्त के बाद जठराग्नि मन्द हो जाती है और भोजन पचने में कठिनाई होती है। दिन में नहीं सोना चाहिए। ये मोटापा दूर करने के असरदार और चमत्कारी उपाय (motapa dur karne ke upay) हैं।


ज्यादा भूख लगने पर ही खाएं खाना।

वजन कम करने के लिए ज्यादा भूख लगने पर ही खाना है क्योंकि ऐसा करने पर हमारा शरीर जब खाने के लिए उसको आवश्यकता होती है तो कुछ हलचल होती है हमारा शरीर या बॉडी खाने के लिए कोई तभी खाना खाए और खाना कुछ कम ही खाएं जिससे मोटापा कम करने में काफी मदद मिलेगी।

जब खाना पच जाये और तेजी से भूख लगे तब ही अगला भोजन करना चाहिए। भोजन समय पर करना चाहिए तथा जितनी भूख हो उससे थोड़ा कम ही खाना चाहिए। खाना खूब चबा-चबाकर खाना चाहिए। यह वजन कम करने का काफी अच्छा उपाय (motapa dur karne ke upay) है।


Post a Comment