होली 2022 में कब है। होली 2022 में कब की है। 2022 में मार्च के महीने में होली कब की है।2022 me Holi kab ki hai. इन सभी सवालों का जवाब अगर आप ढूंढ रहे हैं तो चिंता करने की कोई बात नहीं है हम आपको अपने इस आर्टिकल के माध्यम से बताने वाले हैं कि होली 2022 में कब की है यह जानने के लिए आप हमारे इस आर्टिकल को पढ़ते रहिए।

2022 में होली कब है, 2022holi kab hai.


'फ्रेंड्स' जैसा कि आप सभी जानते हो होली का त्यौहार हमारे भारत देश में बहुत धूमधाम से मनाया जाता है। इस त्यौहार को बच्चे बड़े और बूढ़े सभी बहुत आनंद के साथ मनाते हैं। लेकिन समय के साथ-साथ होली के इस त्यौहार में कुछ खामियां नजर आने लगी जो अच्छी नहीं है। होली के त्यौहार पर लोग ज्यादा से ज्यादा शराब पीकर नशे की हालत में गाड़ियां चलाते हैं। जिसकी वजह से दुर्घटना हो जाती है, और कई परिवार बेसहारा हो जाते हैं। इसलिए दोस्तों इस त्यौहार को शांति पूर्वक मनाना चाहिए शराब आदि मादक पदार्थों का प्रयोग नहीं करना चाहिए। दोस्तों अगर आपको नहीं पता है, कि 2022 में होली कब की है। तब आप इस पोस्ट को ध्यान से पढ़ें।


होली 2022 में कब है?

 2022 में होली का  दहन 22 मार्च दिन गुरुवार को होगा। और पूर्णिमा तिथि की शुरुआत भी इसी माह की तारीख17 मार्च 2022 को होगी। और इस कार्य का शुभ समय दिनांक 17 मार्च समय 1:29 pm.दोपहर और 18 मार्च 12:47 दोपहर तक होगा।


होलिका दहन करने का शुभ मुहूर्त 17 मार्च 2022 समय 9:03pm से 10:13pm तक रहेगा।



होली क्यों मनाई जाती है? इसका मनाने का क्या कारण है।


होली क्यों मनाई जाती है, यह आप सभी जानते होंगे लेकिन अगर आप नहीं जानते हैं तो हम आपको अपने इस आर्टिकल में संपूर्ण जानकारी उपलब्ध कराने वाले हैं। हमारे इस आर्टिकल को पढ़कर आप यह जान जाएंगे के होली क्यों मनाई जाती है। और इसका मनाने का क्या कारण है।

होली को मानने के पीछे एक प्राचीन काल की कथा है यह कथा यह बताती है कि होली क्यों मनाई जाती है।

प्राचीन काल में एक अत्याचारी और दुराचारी राजा हुआ करता था। जिसका नाम राजा हिरण्यकश्यप था। राजा हिरण्यकश्यप ने कठोर तपस्या कर ब्रह्मा से यह वरदान प्राप्त कर लिया था। की दुनिया में कोई भी जीव जंतु या मानव, देवी-देवता या राक्षस उसे मार ना सके। और ना ही वह रात में मरे ना दिन में ना आकाश में ना धरती पर ना घर में ना बाहर और यहां तक कि कोई शस्त्र भी उसे ना मार सके।


ऐसा वरदान पाकर हिरण्यकश्यप बहुत खुश था। हिरण्यकश्यप के यहां प्रहलाद जैसा परमात्मा पर अटूट विश्वास करने वाला पुत्र पैदा हुआ। प्रहलाद भगवान विष्णु का परम भक्त था। और प्रहलाद पर भगवान विष्णु की कृपया दृष्टि थी।


राजा हिरण्यकश्यप ने अपने पुत्र प्रहलाद को आदेश दिया उसके सिवाय किसी अन्य की पूजा भक्ति ना करें। हिरण्यकश्यप की बात ना मानकर प्रहलाद भगवान विष्णु की पूजा भक्ति करता था। प्रहलाद के ना मानने पर हिरण्यकश्यप प्रहलाद की जान का दुश्मन हो गया। हिरण्यकश्यप ने प्रहलाद को मारने के अनेक उपाय किए लेकिन प्रहलाद भगवान विष्णु की कृपा से बार-बार बचता रहा।


हिरण्यकश्यप की एक बहन थी। जिसका नाम होली का था। होली का बालक प्रहलाद की बुआ थी। होलिका को आग में ना जलने का वरदान प्राप्त था। होलिका को वरदान में एक ऐसी चादर मिली हुई थी जो आग में नहीं जलती थी।हिरण्यकश्यप ने अपनी बहन होलिका की मदद से बालक प्रहलाद को आग में जलाकर मारने की योजना बनाई। होलीका बालक प्रहलाद को गोद में उठाकर वरदान वाली चादर ओढ़ कर जलती हुई आग में जान से मारने के उद्देश्य बैठ गई।


लेकिन प्रभु की कृपया होने पर होलिका की चादर बालक प्रहलाद पर जा पड़ी और होलिका पर चादर ना होने के कारण होलिका आग में जलकर भस्म हो गई। इस प्रकार बालक प्रहलाद को जान से मारने की कोशिश में होलिका की मृत्यु हो गई। और तभी से होली का त्यौहार मनाने जाने लगा। और इसके बाद भगवान विष्णु ने हिरण्य कश्यप को मारने के लिए नरसिंह का अवतार लिया। आधा मानव और आधा शेर सुबह शाम का एक वक्त दरवाजे की चौखट पर भगवान विष्णु ने अपनी टांगों पर रखकर हिरण्यकश्यप का अपने नाखूनों से पेट फाड़ दिया था। जिससे हिरण्यकश्यप की तुरंत मृत्यु हो गई थी। हिरण्यकश्यप के वरदान के अनुसार उसकी मृत्यु ना तो दिन में हुई और ना ही रात में, ना ही उसकी मृत्यु में किसी शास्त्र का इस्तेमाल किया गया ना ही उसकी मृत्यु आकाश में हुई और ना ही धरती पर। तभी से होली का त्यौहार मनाया जाने लगा।


दोस्तों मैं आशा करता हूं। कि 2022 में होली कब है, यह आपने हमारे इस आर्टिकल के माध्यम से जान लिया होगा।


होली 2022 में कब है।


2022 का होली कितने मार्च का है?


होली कब जलाई जाएगी?


होलिका कब जलेगी?


होलिका दहन क्यों किया जाता है?


होली से पहले क्यों किया जाता है होलिका दहन?


होलिका कौन जाति थी?


होली के पिता का क्या नाम था?


होलिका का दूसरा नाम क्या है?


होली की असली सच्चाई क्या है?


दलितों को होली क्यों नहीं मनाना चाहिए?


होली का रहस्य क्या है?


होली क्यों नहीं मनानी चाहिए?


होली किसका त्योहार है?


होली मनाने का मुख्य उद्देश्य क्या है?


होली की पूजा क्यों की जाती है?


होली त्यौहार मनाने से क्या लाभ है?


बौद्ध धर्म में होली का क्या महत्व है?


होली मनाने का वैज्ञानिक कारण क्या है।


Post a Comment