सर्दी- जुकाम में कौन सी दवा खानी चाहिए।2022.

आज हम अपने इस आर्टिकल में सर्दी जुकाम क्या होता है। और क्यों होता है, इसके बारे में बात करने वाले हैं। और मुझे उम्मीद है, कि यह आर्टिकल आपके लिए काफी यूज़फुल होने वाला है।  इस आर्टिकल से आप लोगों को बहुत ज्यादा फायदा मिलने वाला है,तो चलिए अब बात करते हैं, सर्दी जुकाम के बारे में। सर्दी जुकाम में कौन सी दवा लेनी चाहिए, सर्दी जुकाम मैं कौन सी दवा लें, सर्दी जुकाम टेबलेट नाम, जुकाम की टेबलेट का नाम, सर्दी जुकाम का घरेलू उपचार, सर्दी जुकाम की आयुर्वेदिक दवा, सर्दी जुकाम खांसी की टेबलेट इत्यादि का सही जवाब हम आपको इस आर्टिकल में उपलब्ध कराने वाले हैं तो बने रहिए हमारे इस आर्टिकल पर सटीक जानकारी पाने के लिए। अब चलते हैं सर्दी जुकाम की क्या है और यह कैसे होता है इसके बारे में आगे आपको जानकारी मिलने वाली है पढ़ते रहिए इस आर्टिकल को।

सर्दी ज़ुकाम नाक, गले, साइनस और ऊपरी वायुमार्ग का वायरल संक्रमण है, जो आपतौर पर गम्भीर नहीं होता। यह बहुत आम है, और अधिकांश मामलों में एक या दो सप्ताह के भीतर अपने आप ठीक हो जाता है।

सर्दी के मुख्य लक्षण हैं।


  • गले में ख़राश।

  • बंद या बहती नाक।

  • छींक आना।

  • खांसी।


अधिक गंभीर लक्षणों में बुखार, सिरदर्द और मांसपेशियों में दर्द शामिल हैं, हालांकि ये फ्लू के लक्षण ज़्यादा हैं ।


दर्द निवारक और डिकंजेस्टेन्ट डॉक्टरी पर्चे के बिना फार्मेसियों पर उपलब्ध हैं। वे आम तौर पर बड़े बच्चों और वयस्कों को लेने के लिए सुरक्षित हैं, लेकिन शिशुओं, छोटे बच्चों, गर्भवती महिलाओं, और ऐसे लोगों के लिए उपयुक्त नहीं हैं जिन्हें अन्य स्वास्थ्य संबंधी समस्याएँ हैं। उनके लिए भी नहीं जो कुछ अन्य दवाओं का सेवन कर रहे हैं। यदि आप दुविधा में हैं तो अपने फार्मासिस्ट से बात करें।


जुकाम के इलाज और छोटे बच्चों में सर्दी के बारे में जानकारी के लिए पढ़ते रहें।



सर्दी- जुकाम होने पर क्या करें।

सर्दी का कोई इलाज नहीं है, लेकिन आप इन बातों पर अमल कर अपना ख़याल रख सकते हैं:


आराम करना, बहुत सारे तरल पदार्थ पीना और स्वस्थ भोजन करना।

बुखार या बेचैनी को कम करने के लिए पैरासिटामोल या इबुप्रोफेन जैसे ओवर-द-काउंटर दर्द निवारक लेना।

बंद नाक के खुलने के लिए के लिए डिकंजेस्टेन्ट (decongestant) स्प्रे या गोलियों का उपयोग करना।

नमक के पानी के गरारे करना और मेन्थॉल की गोलियाँ चूसना। ऐसा करने से जो काम मैं काफी राहत मिलती है।


जनरल फिजीशियन (डॉक्टर) से सलाह लें।

यदि आपको या आपके बच्चे को सर्दी है, तो आमतौर पर आपको डॉक्टर को दिखाने की कोई आवश्यकता नहीं होनी चाहिए। क्योंकि सामान्यतः यह एक या दो सप्ताह के भीतर अपने आप ही ठीक हो जाता है।


आपको अपने डॉक्टर से संपर्क करने की आवश्यकता है यदि:


आपके लक्षण तीन हफ़्तों से ज़्यादा रहते हैं।

आपके लक्षण अचानक गंभीर हो जाते हैं।

आपको सांस लेने में तकलीफ हो रही है।

आपको सर्दी से होने वाली समस्याएँ हैं, जैसे छाती में दर्द या खाँसी के दौरान। बलगम के साथ ख़ून आना।

यदि आप अपने बच्चे या किसी बुजुर्ग व्यक्ति को लेकर चिंतित हैं। या यदि आपको कोई दीर्घकालिक बीमारी है, जैसे कि फेफड़ों की बीमारी, तो डॉक्टर से परामर्श लेना सही रहेगा।


सर्दी-जुकाम कैसे फैलता है?

सामान्य तौर पर, एक व्यक्ति अपने लक्षणों के शुरू होने से कुछ दिन पहले संक्रामक हो जाता है । और तब तक रहता है, जब तक उनके सभी लक्षण नहीं चले जाते हैं। इसका मतलब है, कि ज्यादातर लोग लगभग दो सप्ताह तक दूसरों को संक्रमित कर सकते हैं।


आपको किसी संक्रामक व्यक्ति से वायरस संक्रमण हो सकता है, इन तरीक़ों से:-जैसे


संक्रमित बूंदों से दूषित किसी वस्तु या सतह को छूना और फिर अपने मुंह, नाक या आंखों को छूना।

किसी ऐसे व्यक्ति की त्वचा को छूना, जिनकी त्वचा पर संक्रमित बूंदें हैं, और फिर आपके मुंह, नाक या आंखों को छूना।

साँस लेते समय सर्दी के वायरस युक्त छोटी बूंदों को इन्हेल करना(साँस लेते वक़्त खींचना)- ये हवा में तब फ़ैल जाते हैं। जब कोई संक्रमित व्यक्ति खांसता या छींकता है।

लगातार संपर्क में रहने वाले लोगों के समूहों के बीच सर्दी आसानी से फैलती है।जैसे कि परिवार में या स्कूल और डे-केयर जाने वाले बच्चों में। ये संक्रमण सर्दियों के मौसम में अधिक होता है, हालांकि यह स्पष्ट नहीं है कि ऐसा क्यों है।

कई अलग-अलग वायरस सर्दी जुकाम का कारण बन सकते हैं। इसलिए एक के बाद एक कई बार सर्दी होना संभव है। अलग अलग वायरस के संक्रमण से।


सर्दी-जुकाम को फैलने से रोका जा सकता है।

जुकाम को फैलने से रोकने के लिए आप कुछ सरल तरीक़े अपना सकते हैं। 


उदाहरण के लिए:-जैसे

अपने हाथों को नियमित रूप से धोएं।विशेष रूप से अपनी नाक या मुंह को छूने से पहले और भोजन को छूने से पहले

हमेशा टिश्यू पेपर में छींकें और खाँसे- इससे वायरस-युक्त बूंदों को आपकी नाक और मुंह के माध्यम से हवा में प्रवेश करने से रोका जा सकता है। जहां वे दूसरों को संक्रमित कर सकते हैं।आपको इस्तेमाल किए गए टिश्यू पेपर को तुरंत फेंक देना चाहिए। और अपने हाथों को धोना चाहिए।

सतहों को नियमित रूप से साफ़ करें। उन्हें कीटाणुओं से मुक्त रखने के लिए अपने ख़ुद के कप, प्लेट, कटलरी और रसोई के बर्तनों का उपयोग करें।

किसी ऐसे व्यक्ति के साथ तौलिए या खिलौने साझा न करें जिन्हे सर्दी है।

यह सुझाव दिया गया है, कि विटामिन सी, ज़िंक और लहसुन की खुराक से आपको सर्दी होने की सम्भावना कम हो सकती है।लेकिन वर्तमान में इसका समर्थन करने के लिए पर्याप्त मजबूत सबूत नहीं हैं।



सर्दी जुकाम के लक्षण

लक्षण आमतौर पर संक्रमित होने के कुछ दिनों के भीतर विकसित होते हैं।

मुख्य लक्षणों में शामिल हैं

जैसे:-


गले में खराश।

बंद और बहती नाक।

छींक आना।

खांसी।

भारी आवाज।

आम तौर पर अस्वस्थ महसूस करना।


लक्षण जो आम नहीं हैं:


बुखार - आमतौर पर 37-39 सेंटीग्रेड शरीर का तापमान (98.6-102.2 फेरेनहाइट)

सिरदर्द।

कान में दर्द - गंभीर कान का दर्द किसी मध्य कान के संक्रमण का संकेत हो सकता है।

मांसपेशियों में दर्द।

स्वाद और गंध ना महसूस होना

आँखों में हल्की जलन

कान और चेहरे पर दबाव का अहसास

लक्षण आमतौर पर पहले दो से तीन दिनों के दौरान सबसे ज़्यादा परेशान करते हैं। इससे बाद वो धीरे धीरे ठीक होने लगते हैं। वयस्कों और बड़े बच्चों में, वे आमतौर पर 7 से 10 दिनों तक रहते हैं, लेकिन लंबे समय तक भी रह सकते हैं। ख़ास कर खांसी दो या तीन हफ़्तों तक रह सकती है।


जुकाम उन छोटे बच्चों में अधिक समय तक रहता है जो पांच वर्ष से कम उम्र के होते हैं, आमतौर पर लगभग 10 से 14 दिनों तक।



कभी-कभी यह बताना मुश्किल हो सकता है कि आपको सर्दी है या कुछ ज़्यादा गंभीर जैसे फ़्लू, क्योंकि लक्षण काफी समान हो सकते हैं।


मुख्य अंतर इस प्रकार हैं।


फ्लू के लक्षण।

लक्षण जल्दी नज़र आना

सिरदर्द, बुखार और मांसपेशियों में दर्द

आपको अस्वस्थ महसूस करने के कारण अपनी सामान्य गतिविधियों को जारी रख पाने में मुश्किल होती है।


सर्दी ज़ुकाम के लक्षण।

मुख्य रूप से आपकी नाक और गले का प्रभावित होना।

गंभीर नहीं होना, आपकी दिनचर्या और काम प्रभावित नहीं होते हैं।

डॉक्टर से कब मिलें।

सर्दी आम तौर पर हल्के और कम समय के लिए होती हैं, इसलिए सामान्यतः इसमें आपको डॉक्टर की कोई आवश्यकता नहीं होती। आपको बस घर पर आराम करना चाहिए। और अपने लक्षणों से आराम के लिए दर्द निवारक लें। और अन्य उपायों का प्रयोग करें। जब तक आपको अच्छा महसूस ना हो।


यदि आप घर पर जुकाम का इलाज करने के बारे में सलाह चाहते हैं, तो फार्मासिस्ट से बात करें। आपको डॉक्टर से मिलने की आवश्यकता तभी है यदि:


आपके लक्षण तीन हफ़्तों से अधिक समय तक बने रहते हैं।

आपके लक्षण अचानक बदतर हो जाते हैं

आपको सांस लेने में तकलीफ़ हो रही है

आप सर्दी की वजह से कोई गंभीर लक्षण विकसित हो जाए , जैसे कि छाती में दर्द या खाँसते वक़्त बलगम के साथ ख़ून आना

यदि आप अपने बच्चे या किसी बुजुर्ग व्यक्ति के बारे में चिंतित हैं, या यदि आपको कोई दीर्घकालिक बीमारी है जैसे कि फेफड़े की, तो डॉक्टर से परामर्श लेना जरूरी हो जाता है।


सामान्य सलाह।

जब तक आप बेहतर महसूस नहीं करते, तब तक इन बातों का ध्यान रख सकते हैं:


पसीने और नाक बहने से हुए शरीर में द्रव्य की कमी (डीहायड्रेशन) को पूरा करने के लिए भरपूर मात्रा में तरल पदार्थों का सेवन करें।


पौष्टिक भोजन लें। - कम वसा के फाइबर युक्त वाले आहार लेने की सलाह दी जाती है। जिसमें ताजे फल और सब्जियां शामिल हैं।

जुकाम होने पर आपको भूख कम लग सकती है। यह पूरी तरह से सामान्य है, और ऐसा केवल कुछ दिनों तक होता है। अगर आपको भूख नहीं है‌।तो ज़बरन ना खाएँ।


जुकाम की दवा के संबंध में जानकारी।

दर्द निवारक(पेन किलर्स)

पैरासिटामोल और इबुप्रोफेन बुखार को कम करने और दर्द निवारक के रूप में भी काम कर सकते हैं। एस्पिरिन भी मदद कर सकता है, लेकिन यह आमतौर पर जुकाम के लिए नहीं दिया जाता है और 16 साल से कम उम्र के बच्चों को कभी नहीं दिया जाना चाहिए।


यदि आपके बच्चे को सर्दी है, तो बच्चों को दी जाने वाली पैरासिटामोल और इबुप्रोफेन (प्रायः पीने वाली दवा) ख़रीदें। हमेशा सही खुराक दी जाए यह सुनिश्चित करने के लिए निर्माता के दिए निर्देशों का पालन करें।


सामान्य तौर पर एक ही समय में इबुप्रोफेन और पेरासिटामोल दोनों को लेना सर्दी में आवश्यक नहीं है। और बच्चों में एक साथ दोनो का उपयोग करने से बचना चाहिए क्योंकि ये असुरक्षित हो सकता है।


पैरासिटामोल और इबुप्रोफेन जुकाम की दवाओं के रूप में भी दिए जाते हैं। यदि आप दर्द निवारक ले रहे हैं। और सर्दी की दवा भी लेना चाहते हैं, तो पहले पेशंट इन्फ़र्मेशन लीफ़्लेट (सूचना पत्र) को देखें और अपने फार्मासिस्ट या डॉक्टर से सलाह लें, ताकि आप बताई गयी खुराक से अधिक न लें।


यदि आप गर्भवती हैं, तो पैरासिटामोल हल्के से मध्यम दर्द और बुख़ार के इलाज के लिए बेहतर विकल्प है।


डिकंजेस्टेन्टस

डिकंजेस्टेन्ट मुंह के द्वारा (ओरल डिकंजेस्टेन्ट) या बूँदों के रूप में या आपकी नाक में स्प्रे के माध्यम से लिया जा सकता है। वे आपकी नाक के अंदर की सूजन को कम करके साँस लेना आसान बना सकते हैं।


हालांकि, वे आम तौर पर केवल एक छोटी अवधि के लिए प्रभावी रहते हैं। और यदि उनका उपयोग एक सप्ताह से अधिक समय तक किया जाए, तो वे आपकी अवरुद्ध नाक की समस्या को और ज़्यादा बढ़ा सकते हैं।


छह साल से कम उम्र के बच्चों और 12 साल से कम उम्र के बच्चों के लिए डिकंजेस्टेन्ट की सलाह नहीं दी जाती है, जब तक कि फार्मासिस्ट या डॉक्टर द्वारा सलाह न दी जाए। 


जुकाम के लिए अन्य उपाय।

नीचे दिए गए उपाय आपको बेहतर महसूस करने में मदद कर सकते हैं।

गरारे और मेन्थॉल की गोलियाँ


कुछ लोग नमक के पानी से गरारे करते हैं, और मेन्थॉल की मीठी गोलियाँ चूसते हैं। जिससे गले की खराश और अवरुद्ध नाक से राहत मिलती है।


वेपोरब का इस्तेमाल।

वेपोरब लगाने से शिशुओं और छोटे बच्चों को सर्दी होने पर आसानी से सांस लेने में मदद मिल सकती है। इसे अपने बच्चे की छाती और पीठ पर लगाएँ। इसे उनके नथुने पर न लगाएँ क्योंकि इससे जलन और सांस लेने में कठिनाई हो सकती है।


नाक की सलाइन ड्रॉप

नेसल सलाइन (नमक का पानी) बूँदें शिशुओं और छोटे बच्चों में बंद नाक को राहत देने में मदद करत सकती हैं।


विटामिन और मिनरल के पूरक आहार।


लक्षणों के शुरू होने के एक दिन के भीतर ज़िंक सप्पलिमेंट्स लेने से राहत महसूस होगी और लक्षणों की गंभीरता में कमी आएगी, कुछ साक्ष्य इस बात की ओर इशारा करते हैं।


हालांकि, यह सुझाव देने के लिए वर्तमान में बहुत कम साक्ष्य हैं कि सर्दी ज़ुकाम होने पर विटामिन सी की खुराक लेना फायदेमंद है।


जिन उपचारों की सलाह नहीं दी जाती आमतौर पर जुकाम के इलाज के लिए निम्नलिखित उपचारों की सलाह नहीं दी जाती है क्योंकि उनके प्रभावी होने का कोई मजबूत साक्ष्य नहीं हैं, और वे अप्रिय दुष्प्रभाव पैदा कर सकते हैं:


एंटीथिस्टेमाइंस (antihistamines)

कफ़ ट्रीटमेंट या सिरप

एंटीबायोटिक्स - ये केवल बैक्टीरिया के खिलाफ प्रभावी हैं (सर्दी जुकाम वायरस के कारण होते हैं)

अतिरिक्त और वैकल्पिक चिकित्सा (CAM) उपचार जैसे एकिनेसिया (echinacea) और चीनी हर्बल दवाएं

जटिलताएँ (कॉम्प्लिकेशनस)

जुकाम आमतौर पर किसी अन्य जटिल समस्या का कारण बने बिना ठीक हो जाता है। हालांकि, संक्रमण कभी-कभी आपकी छाती, कान या साइनस में फैल सकता है।



बच्चे की मदद कैसे करें?

निम्नलिखित युक्तियाँ आपके बच्चे को सर्दी में बेहतर महसूस करने में मदद कर सकती हैं।

अपने बच्चे को आराम करने के लिए प्रोत्साहित करें। और सुनिश्चित करें, कि वे बहुत सारे तरल पदार्थ पीते रहें - पानी देना ठीक है, लेकिन गर्म पेय लाभदायक हो सकते हैं।

यदि उनकी नाक बंद है, तो आप अपने बच्चे के बिस्तर या खाट के सिरहाने वाले हिस्से को ऊपर उठाकर पायों के नीचे ईंट या किताब रख कर या गद्दे के नीचे एक तकिया रखकर, उनका साँस लेना आसान बना सकते हैं। (एक वर्ष से छोटे बच्चे के गद्दे के नीचे कुछ ना रखें)।

लिक्विड पैरासिटामोल या इबुप्रोफेन बुखार और बेचैनी को कम करने में मदद कर सकते हैं। पैकेजिंग पर खुराक के निर्देशों की जाँच करें, और 16 वर्ष से कम उम्र के बच्चों को कभी एस्पिरिन न दें।

यदि आपके बच्चे की नाक बंद है, तो गर्म और नम वातावरण सांस लेना आसान कर सकता है। अपने बच्चे को बाथरूम में ले जाएं और गर्म पानी से स्नान कराएं। या हवा को नम करने के लिए वेपराइज़र का उपयोग करें।

कमरा हवादार रखें और तापमान सही रखें, और अपने बच्चे को बहुत गर्म न होने दें।उदाहरण के लिए, उन्हें एक हल्की चादर से ढँकें।

यदि आपके मन में आपके बच्चे की देखभाल को लेकर या उनकी दवाओं को लेकर कोई सवाल है। तो सलाह के लिए अपने फार्मासिस्ट या डॉक्टर से बात करें।




Post a Comment