वैलेंटाइन डे के दिन क्या करते हैं



Valentine day 2022 : मेरे प्यारे प्रेमी भाइयों आज मैं आपके लिए अपनी पोस्ट में प्यार के दिन, इजहार ए मोहब्बत का दिन, प्रपोज डे, अर्थात वैलेंटाइन डे के बारे में बात करने वाला हूं। वैलेंटाइन डे के दिन क्या करते हैं, वैलेंटाइन डे कब मनाया जाता है। किस डे कब है। आपके इन सभी सवालों का जवाब लेकर हाजिर हुआ हूं, एक बार फिर गूगल पर अपनी इस पोस्ट के माध्यम से। जहां तक मैं समझता हूं शायद ही ऐसा कोई व्यक्ति होगा। जो वैलेंटाइन डे के बारे में नहीं जानता होगा। लेकिन फिर भी जो मेरे दोस्त वैलेंटाइन डे के बारे में नहीं जानते हैं। और वह इंटरनेट पर वैलेंटाइन डे के बारे में रिसर्च करते हैं। और अगर वह मेरी इस पोस्ट को पढ़ रहे हैं, तो उनकी रिसर्च मेरी यह पोस्ट पढ़कर ही खत्म हो जाएगी।

वैलेंटाइन डे यानी कि मोहब्बत का दिन। इजहार ए मोहब्बत का दिन। वैलेंटाइन डे के पीछे एक लंबी कहानी है 18 वीं शताब्दी में एक संत वैलेंटाइन हुआ करते थे। वैलेंटाइन डे के पीछे संत वैलेंटाइन से जुड़ी एक कहानी है। और तभी से 14 फरवरी को वैलेंटाइन डे रूप मनाया जाता है।

इजहार ए मोहब्बत कैसे करें, वैलेंटाइन डे (Day)पर।

अगर आप भी किसी से मोहब्बत करते हैं, और आपने अभी तक उसको अपनी मोहब्बत का इजहार नहीं किया है। तो आपके पास एक सुनहरा अवसर है, 14 फरवरी  वैलेंटाइन डे पर अपनी मोहब्बत का इजहार करने का। आपके ख्वाबों की रानी, आपके दिल की मल्लिका ए हुस्न, आपके सपनों की शहजादी कहीं किसी और की ना हो जाए इससे पहले आप अपने दिल की मल्लिका ए हुस्न को वैलेंटाइन डे पर अपनी मोहब्बत का इजहार करके अपना बना लें।

आज हम आपको अपने इस लेख में बताने वाले हैं। कि वैलेंटाइन डे पर अपने सपनों की रानी को अपना बनाने के लिए कैसे मोहब्बत का इजहार करें। चलिए जानते हैं।

अक्सर ज्यादातर लोग अपनी मोहब्बत पाने के लिए वैलेंटाइन डे पर प्यार का फूल(red🌹 rose )यानी कि गुलाब का फूल देकर अपनी मोहब्बत का इजहार(propose) करते हैं। या फिर आप अपने सपनों की शहजादी को कोई ऐसा तोहफा दें,जिससे वह सबसे ज्यादा पसंद करती हो। तोहफा देकर आप अपनी मोहब्बत का इजहार कर सकते हैं। यकीनन वैलेंटाइन डे पर आपके सपनों की शहजादी आपके प्रपोजल को स्वीकार(accept) कर लेगी।


वैलेंटाइन डे (Day)14 फरवरी को क्यों मनाया जाता है।

वैलेंटाइन डे 14 फरवरी को क्यों मनाते हैं


वैलेंटाइन डे 14 फरवरी को क्यों मनाया जाता है। वैलेंटाइन डे मनाने के पीछे संत वैलेंटाइन से जुड़ी एक कहानी है। वैलेंटाइन डे को प्यार का दिन माना जाता है।

वैलेंटाइंस डे भारत सहित कई अन्य देशों में मनाया जाता है।क्या आप जानते वैलेंटाइन डे को क्यों मनाया जाता है। वैलेंटाइन डे के पीछे जुड़ी कई कहानियां हैं। लेकिन वैलेंटाइन डे 14 फरवरी को ही क्यों मनाया जाता है।

वैलेंटाइन डे की शुरुआत कैसे हुई जानें।

'ओरिया ऑफ जैकोबस डी वांराजिन' नामक पुस्तक के अनुसार रूम के एक पादरी संत वैलेंटाइन थे। वह उस समय प्रेम में बहुत ज्यादा आस्था रखते थे। उनका कहना था कि प्रेम ही असल में जीवन जीने का तरीका है। इसलिए वैलेंटाइन प्रेम करने वालों की सहायता करते थे। और उन्हें आपस में मिलाया करते थे।

लेकिन इसी शहर का एक राजा जिसका नाम क्लॉडियस था। उसे संत वैलेंटाइन की यह बातें पसंद नहीं थी। राजा को लगता था की प्रेम और शादी से व्यक्ति की बुद्धि और शक्ति दोनों ही खत्म हो जाती हैं। इसी कारण उसने अपने सेनिको मैं यह ऐलान कर दिया था कि कोई भी उसका सैनिक शादी या प्रेम नहीं करेगा। अगर ऐसा किसी ने करने का सोचा भी तो उसको कठिन कारावास से दंडित किया जाएगा।

राजा क्लॉडियस की इस बात का संत वैलेंटाइन ने विरोध किया। और रोम की जनता को शादी और विवाह  के लिए प्रेरित किया। और इतना ही नहीं उन्होंने कई सैनिकों और अधिकारियों की शादियां भी कराईं। संत वैलेंटाइन के इस कार्य से राजा भड़क गया और उसने संत वैलेंटाइन को 14 फरवरी सन 269 को फांसी पर लटका दिया। संत वैलेंटाइन को जिस दिन फांसी पर लटकाया गया यह वही दिन था। जो आज वैलेंटाइन डे के रूप में मनाया जाता है। इसलिए आज भारत सहित कई अन्य देशों में 14 फरवरी को वैलेंटाइन डे के रूप में मनाया जाता है।

ऐसा कहा जाता है, कि संत वैलेंटाइन ने जेलर की बेटी जैकोबस को जो नेत्रहीन थी। अपनी आंखें दान की थीं। संत वैलेंटाइन डे जेलर को एक खत भी लिखा था।जिसके अंत में लिखा था, तुम्हारा वेलेंटाइन।

तो दोस्तों यह थी वैलेंटाइन की कहानी।

वेलेंटाइन डे 2022 शायरी


               वैलेंटाइन 2022 की शायरी।

  (1.) जिसे हर दम अपनी सपनों में पाया है,

         जिसका ख्याल हर पल मन में आया है।

               अब तो कहना ही पड़ेगा,

         वैलेंटाइन डे इजहार का मौका लाया है।


(2.)   गुलाब सी महकती रहे, जिंदगी तुम्हारी,

         यही दुआ है, खुदा से तुम्हारे लिए हमारी।

         गम के बादल हटें मिले खुशियां तुम्हें,

          वैलेंटाइन डे की यही दुआ है, हमारी।


(3.)  हम हर कदम तेरे साथ चलेंगे, तू चले या न चले,

           हम तेरा हर दर्द सहेंगे, तू कहे या ना कहे।

           हम चाहते हैं, कि तूम सदा खुश रहो,

              हम चाहे रहे, या ना रहे।


(4.)    जिसे पाया ना जा सके वह जनाब हो तुम,

            मेरी जिंदगी का पहला ख्वाब हो तुम।

               लोग चाहे कुछ भी कहे लेकिन,

         मेरी जिंदगी का एक सुंदर सा गुलाब हो तुम।


(5.)    मोहब्बत के भी अपने कुछ अंदाज होते हैं,

          जागती आंखों में भी कुछ ख्वाब होते हैं।

          जरूरी नहीं है कि गम में ही आंसू निकले,

            मुस्कुराती आंखों में भी सैलाब होते हैं।


मेरे प्यारे दोस्तों मैं उम्मीद करता हूं कि मेरे द्वारा दी गई वैलेंटाइन डे की जानकारी आपको समझ आई होगी। अगर आपको मेरे द्वारा दी गई यह जानकारी पसंद आई हो। तो मेरी इस पोस्ट को आप ज्यादा से ज्यादा शेयर करें। और हमारी वेबसाइटHindi Guru की नोटिफिकेशन को पुश करके allow करें। ताकि मैं जब भी कोई नई पोस्ट डालूं तो उसकी जानकारी आप तक सबसे पहले पहुंचे। धन्यवाद।

Post a Comment