2022 की (10) दर्द भरी शायरी हिंदी में।2022  zakhmi dil best shayri in hindi.

2022 की जख्मी दिल शायरी इन हिंदी


आज हम अपनी वेबसाइट के माध्यम से आज आपके सामने लेकर आए हैं।2022 की कुछ चुनिंदा जख्मी दिल शायरी, आप पढ़ कर इस शायरी को खुश हो जाएंगे। 2022 की लेटेस्ट शायरी इन हिंदी।

  (1)     एक ऐसे दौर में जी रहा हूं मैं,

हर एक सांस के साथ लहू का घूंट पी रहा हूं मैं।।

जमाने ने कितना जहर खोल रखा है इन हवाओं में,

कि सांस भी बहुत दिक्कत से ले रहा हूं मैं।।

(2)   खुदा ने चाहा तो फिर इंकलाब आएगा,

  उनके लबों पर भी खुदा का नाम आएगा।।

जो आज कत्लेआम कर रहे हैं, बेगुनाहों के लहू से,

वह याद रखें, कि हिसाब देने का उनका भी वक्त आएगा।।

(3)  गिला किस्मत से हम कुछ कर नहीं सकते,

बिना रब की मर्जी जरा भी हिल नहीं सकते।।

वह चाहता है, जालिम हम को मिटाना देना,

उससे कह दो वह लाख कोशिश कर ले,हम कर नहीं सकते।।

(4)  हम वह हैं, जो अपने सीने में हर दर्द छुपा लेते हैं।

और तेरे लिए हर खुशी को बचा देते हैं।।

तू समझती रही हरदम हमें गैरों की तरह,

हम ही पागल थे, जो तेरा नाम सुबह शाम लिया करते हैं।।

(5) आज अपनी जुल्फों के साए में जरा आ जाने दो मुझको,

जमाने का जगाया हुआ हूं, जरा सो जाने दे मुझको।।

मैं मुस्लिम हूं ना घर कोई मेरा ना कोई ठिकाना, तेरे आगोश में आकर मुझे है चैन पाना।।

(6) तेरी आंखों में जो नशा है वह खाने में कहां,

     जो सुकून तुझ में हैं वह जमाने में कहां।।

    आज भी दिल तेरी चाहत का दीवाना है,

यह और बात है कि इसकी खबर तुझको नहीं।।

(7) तेरा यूं मुस्कुरा देना मैं कभी भूल ना पाया,

   कभी नींद जो आई मुझको, बस तेरा ही ख्वाब         आया,

मैं इतना हो गया था गुम मोहब्बत में, किसी और की सूरत में चेहरा तेरा नजर आया।।

(8) लगा बुलबुल से दिल था मगर हमें अपने प्यार से डर था,

मोहब्बत के सफर में हमें हर बात का डर था।।

ना जाने कौन सी गलती उसे बर्बाद कर दे,

उसे रखना था खुद हमें इस बात का डर था।।

(9)   मैं हर शाम को अपनी तेरे नाम कर दूंगा,

मोहब्बत में जो ना कर पाए, मैं वह काम कर दूंगा।।

तेरी तस्वीर को दिल के तसव्वर में बसा लूंगा,

मुझसे जुदा ना कर पाए यह दुनिया, तुझे अपना बना लूंगा।।

(10) नजर को नजर से मिलाकर देखा है,

     उसी नजर को नजर से चुराते देखा।।

    जालिम तुझे मोहब्बत नहीं थी हमसे,

तो बता तूने हमारी और मुस्कुरा कर क्यों देखा है।।




Post a Comment