मरीज के दरगाह मजार पर लिखकर किस तरह डालें आज इस टॉपिक पर हम बात करेंगे। जो हमारे प्यारे भाई इस बात को नहीं जानते हैं। 

फिर मजार पर जाकर रूहानी मरीज जोकि रूहानी बलाओ से पीड़ित है, उनकी दरख्वास्त लिखकर मजार पर किस तरह डाली जाए।जिससे उनकी गिरफ्तारी बहुत जल्दी हो। आज हम आपको अपने इस आर्टिकल में यही बताएंगे कि मरीज के लिए किस तरह से दरख्वास्त लिखी जाएं। 

जिससे उसके ऊपर जो साया है उसकी गिरफ्तारी बहुत जल्द हो। रूहानी मरीज के लिए दरख्वास्त किस थाना लिखी जाए यह जानने के लिए आप हमारे आर्टिकल को शुरू से आखरी तक इस स्क्रोल करके पूरा पढ़ें।

मरीज की दरखास्त कैसे लिखें।

रूहानी मरीज के लिए मजार पर दरखास्त कैसे लिखकर डालें


मरीज की दरखास्त कैसे लिखें,इसके बारे में आज हम आपको अपने इस आर्टिकल में बताएंगे। अब हम आपको बताते हैं कि किस तरह से मरीज के लिए दरखास्त लिखी जाती है।

जिस दरगाह मजार पर मरीज आते हैं, और उनको रूहानी बलाओ से फैज पहुंचता है। तब उन रूहानी मरीजों के लिए उस दरगाह मजार पर दरखास्त लिखकर टांगी जाती है।

जैसे बदायूं में छोटे बड़े सरकार की दरगाह है। उन की दरगाह पर रुहानी(हबा-डबा बाले) मरीज बहुत आते हैं। और इंशाल्लाह अल्लाह की दुआ से और उनके रहमों करम से मरीजों का इलाज होता है।

ऐसे ही आप जिस मजार या दरगाह पर जाते हैं और वहां अपने मरीज का इलाज कराना चाहते हैं। तब आप वहां की दरगाह मजार के लिए मरीज के नाम की दरख्वास्त डालते हैं। दरखास्त के बाद मजार के वली उस हवा हवा वाले मरीज का इलाज करते हैं।

दर्खास्त का प्रारूप हिंदी में।

रुहानी मरीज या हबा- डबा वाले मरीज की दरखास्त किस तरह लिखी जाती है। यह हम आपको नीचे बताएंगे।

हवा हवा वाले मरीज की जब मजार पर इलाज के लिए अर्जी लगाई जाती है तो उसको दरखास्त कहते हैं। और यह दरखास्त इस तरह लिखी जाती है।

                   दरखास्त हिंदी में।

मरीज का नाम-.........................

मरीज की मां का नाम-...................

मरीज का पता- .........................

मजार या दरगाह के वली का नाम-................

मरीज का थाना-....................

मरीज का जिला-.....................


मेरे प्यारे दोस्तों हमारे द्वारा दी गई यह जानकारी आपको उम्मीद करता हूं पसंद आई होगी। इस जानकारी को अपने तक सीमित ना रखें सोशल नेटवर्किंग साइट के माध्यम से इसको ज्यादा से ज्यादा शेयर करें ताकि यह जानकारी बोरो तक पहुंचे और वह उसका लाभ उठाएं पाएं।



















Post a Comment